Income Tax

आज से बदल रहे है(1 अप्रैल 2018)टैक्स के नये नियम जाने आपके जेब पर कितना प्रभाव पड़ेगा इसका

Image result for income tax photo

  वैसे तो आम लोगो के लिए 1 अप्रैल, अप्रैल फूल बनाने का दिन होता है,लेकिन जो लोग बिज़नस कर रहे है उनके लिए ये एक नये साल की तरह ही होता है क्युकी आज ही के दिन से पैसो का जो भी लेन-देन है वो शुरू होता है.फाइनेंसियल इयर 1 अप्रैल से लेकर 31 मार्च तक होता है.वित मंत्री द्वरा बजट पेश करते समय जो भी टैक्स में बदलाव किये जाते है वो सब आज(1 अप्रैल) ही के दिन से लागु होता है |




वित मंत्री अरुण जेटली ने आम बजट पेश करते समय टैक्स के नियमो में कई बदलाव किये थे जो की 1 अप्रैल से यानि आज के दिन से लागू होगा,वित मंत्री ने Taxpayer को कई छुट दिए है तो कही टैक्स को बढ़ा भी दिए है जिसका सीधा असर Salaried लोगो पर पड़ेगा,

Highlights

  • 2018 के बजट में, बेसिक इनकम टैक्स रेट और स्लाब रेट में कोई परिवर्तन नहीं हुआ है,

 यानि की 2017 और 2018 के स्लाब रेट same है|

  • कुछ changes हुए है जो की taxpayer पर असर करेंगे

 

चलिए जानते है क्या बदवाल किये गए है ……

RS.40,000 Standard Deduction

                      इस साल से सभी वेतनभोगियो और पेंशन वालो को 40000 स्टैण्डर्ड डिडक्शन का लाभ मिलेगा यू तो salary पाने वाले लोगो को इसका कुछ खाश असर नहीं होगा, क्युकी यह डिडक्शन मौजूदा ट्रांसपोर्ट अलाउंस (19,200रूपये) और मेडिकल री-इम्बर्समेंट(15,000 रुपये) का जगह ले लेंगे ,यह वेतनभोगियो के कर देने वाले आय से सीधे तौर पर कम कर दिया जाएगा . पेंशन वालो को मौजूदा डिडक्शन का लाभ नही होता था लेकिन इस डिडक्शन का लाभ पूरी तरह से ये भी ले सकते है .

Long Term Capital Gain-(डिविडेंड आय)

पहले लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन पर टैक्स नही लगता था ये पूरी तरफ से टैक्स फ्री था, लेकिन नये नियमो में बदलाव के कारण 1 साल से ज्यादा निवेश किये गए रकम के मुनाफे पर 10% की दर से टैक्स और 4% सेस लगेगा अगर मुनाफा 1लाख रूपये से अधिक है| 1 लाख रूपये के मुनाफे तक टैक्स फ्री है .

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड के डिविडेंड पर भी 10% की दर से टैक्स लगेगा,कंपनी निवेशक को डिविडेंड की रकम देते समय ही टैक्स कट कर लेगी ,टैक्स जमा करने की जिम्मेदारी निवेशक की नहीं होगी.

इसे भी पढ़े —–Know all about Mutual Fund

Cess में बढ़ोतरी

          पहले cess (2%प्राइमरी एजुकेशन,1% सेकेंडरी and हायर एजुकेशन) की दर 3% थी अब उसे बढ़ाकर 4% कर दिया गया है,एक और cess ऐड कर दिया गया है 1% स्वास्थ और शिक्षा पर लगाया जायेगा .

सिंगल प्रीमियम वाली हेल्थ पालिसी योजना पर ज्यादा छुट

मौजूदा सीमा 25000 रूपये है,अगर पालिसी एक साल से अधिक के लिए है तो आप हर साल समान अनुपात में प्रीमियम पर टैक्स छुट ले सकते है .

Senior citizen को टैक्स में मिलेगा ज्यादा छुट

बैंक और पोस्ट ऑफिस में जमा किये फिक्स्ड डिपाजिट,recurring पर 50,000 रूपये तक तक ब्याज टैक्स फ्री होगा,मौजूदा 10,000 रूपये तक टैक्स फ्री था .

प्रधान मंत्री वय वंदना योजना

ये एक तरह का पेंशन फण्ड योजना है जो की लाइफ insurance कारपोरेशन द्वरा प्रदान की जाती है ,योजना के तहत निवेश सीमा 7.5 लाख से बढ़ाकर 15 लाख रूपये कर दिया गया है,इस योजना में जमा किये गये राशी पर निश्चित ब्याज 8% मिलेगा.

ई-वे बिल

एक राज्य से दुसरे राज्य में माल ले जाने के लिए ई-बे बिल जरुरी होगा.अगर माल की कीमत 50000 रूपये से कम है तो विल की जरुरत नहीं है,टैक्स से छुट वाली वस्तुओ की कीमत इसमें नहीं जुडी रहेगी.

Health Insurance

डिडक्शन की लिमिट अंडर sec 80D 30,000 से बढ़ाकर 50,000 कर दिया गया है जिसके तहत सीनियर citizen मेडिकल expenditure में  मैक्सिमम 50000 तक क्लेम कर सकते है .

कॉर्पोरेट टैक्स रेट में कटौती

इसके तहत 250cr. से ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनीयो को अब 25% ही टैक्स देना पड़ेगा पहले यह 30% था .

 

इसे भी पढ़े

 

दोस्तों आपको ये जानकारी कैसी लगी comment करके बताना न भूले और अपने दोस्तों के साथ भी SHARE करे

                                                                 ||धन्यवाद||



Leave a Reply

Your email address will not be published.